Motivational Shayari in Hindi आपकी सोच बदलेगी TOP 20 Shayari

Motivational Shayari in Hindi आत्मविश्वास पैदा करने वाली top 20 .2020 कि ये शायरी आपके सोच को बदल देगी.

Motivational Shayari in Hindi
Motivational Shayari in Hindi

Hur ज़ुबा पर एक दिन तेरा ही नाम होगा,
हर कदम पर तेरी दुनिया को सलाम होगा,
hur मुसीबत का सामना करना तू डट कर,
तू देखना समय तेरा भी गुलाम होगा।


नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते हैं,
सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते हैं
कश्तियां बदलने की जरूरत नहीं,
दिशा को बदलो तो किनारे खुद-ब-खुद बदल जाते हैं।


साथ नहीं रहने से रिश्ते नहीं टूटा करते,
वक्त की धुंध से लम्हे नहीं टूटा करते,
लोग कहते है मेरा सपना टूट गया,
टूटी नींद है सपने नहीं टुटा करते।


बुझी शमां भी जल सकती है
तूफान से कश्ती भी निकल सकती है
होके मायूस यूं ना अपने इरादे बदल
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है


गम के अंधेरों में खुद को बेकरार ना कर
सुबह जरूर आएगी
सुबह का इंतजार कर

Also see this shayari

Love ShayariAttitude Shayari
Sad ShayariDosti Shayari
Birthday ShayariMotivational Shayari

समने हो मंज़िल तो रास्ते ना मोडना,
जो भी मन मे हो वो सपना ना तोडना,
कदम कदम पे मिलेगी मुशकिल आपको,
बस सितारे चुन-ने के लिये कभी ज़मीन मत छोडना।”


कोई भी लक्ष्य बड़ा नहीं,
जीता वही जो डरा नहीं।

2 line shayari in hindi

“कितनो की तकदीर बदलनी है तुम्हे,
Kitno की तकदीर बदलनी है तुम्हे,
कितनो को रास्ते पे लाना है तुम्हे,
अपने हाथ की लकीरो को मत देखो,
इन लकीरो से आगे जाना है तुम्हे।”


सब्र एक ऐसी सवारी है जो अपने
सवार को कभी गिरने नहीं देती
न किसी के क़दमों में
न किसी की नज़रों में


रो कर मुस्कुराने का मजा ही कुछ और होता है,
जिंदगी में कुछ खो कर पाने का मजा ही कुछ और होता है,
ज़िन्दगी में हार और जीत तो लगी रहती है,
लेकिन हार के जीतने का मजा ही कुछ और होता है।
अपना ज़माना आप बनाते हैं अहले दिल
हम वो नहीं की जिनको ज़माना बना गया


मंजिल मिलेगी भटक कर ही सही
गुमराह तो वो है जो घर से निकले ही नहीं


सामने हो मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना
जो भी मन में हो वो सपना मत तोड़ना
कदम कदम पर मिलेगी मुश्किल आपको
बस सितारे छूने के लिए जमीन मत छोड़ना


मिल ही जाएगी मंजिल भटकते भटकते
गुमराह तो वो हैं जो घर से निकले ही नहीं


मुश्किलों से भाग जाना आसान होता है
हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान होता है
डरने वालों को मिलता नहीं कुछ जिंदगी में
लड़ने वालों के कदमों में जहान होता है


उम्मीदें, ख्वाहिशें, ज़रूरतें, ज़िम्मेदारियाँ..
इस घर में मैं कभी, अकेला नहीं रहता..


ज़िंदा रहना है तो हालात से डरना कैसा,
जंग लाज़िम हो तो लष्कर नहीं देखे जाते।


जो तालाबों पर चौकीदारी करते हैँ….
वो समन्दरों पर राज नहीं कर सकते..

Leave a Comment